ग्रामीण उद्यमिता को प्रोत्साहन दीजिए


ग्रामीण उद्यमिता को प्रोत्साहन दीजिए
बिहार से पलायन को रोकिए
बहुत खुशी है शेयर करते हुए कि एक ग्रेजुएट नवयुवक जिसके पिताजी फौज से रिटायर है वो घर में रहकर अपने मां बाप की सेवा करते हुए स्वरोजगार कर रहा हैं अपने गांव में

Name – Shishu Kumar ( Graduate)
Father name-Shambhu Kumar Chourasia ( Ex Army)
At+po- Bhamarpur,
Ps-Bihpur,
Dis-bhagalpur, Bihar
Pin-853201
#ruralentrepreneurship
#stopmigration
Create Rural capital asset Project BIOFLOC





Source

4 thoughts on “ग्रामीण उद्यमिता को प्रोत्साहन दीजिए

  1. दिक्कत इन्वेस्टमेंट से ज्यादा उसके रिटर्न की है। शायद रंग दे जैसा कुछ प्लान किया जाए तो ऐसी चीज आग कि तरह फैलाई जा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *