जब बिहार में बांस बल्ली और टाली उपलब्ध है तो फिर प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्

जब बिहार में बांस बल्ली और टाली उपलब्ध है तो फिर प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद के घर से क्यों खिलवाड़ किया गया, क्यों उनके ओरिजिनल मकान को तोड़ के ऐसा इतिहास के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है ?
मेरी नजर में ये एक बेहद गैर जिम्मेदाराना हरकत हैं
Please share if you agree to my point of view, lets make it a noise








Source

5 thoughts on “जब बिहार में बांस बल्ली और टाली उपलब्ध है तो फिर प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्

  1. See it has been kept exactly as it was when Gandhi stayed.

    It conveys the message of simple life philosophy these people followed.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *