नेताओ के लिए* Nation first* एक जुमला हैं और कांग्रेस अब देश पे बोझ है, BJP सिर्फ…

नेताओ के लिए* Nation first* एक जुमला हैं और कांग्रेस अब देश पे बोझ है, BJP सिर्फ एक election जीतने की मशीन हैं जिसमे सुचिता और सिद्धांत नहीं हैं, और हम बिहारी गैर जरूरी नागरिक हैं इस देश के ।
हमारे संसदीय इतिहास मे पहली बार इतनी बड़ी संख्या में सांसद suspend हुए , क्यों ? क्या उनके मुद्दे झूठे थे ? महंगाई नहीं बड़ी ? खाद्यान पे tax नहीं लगा ? क्या गुजरात में लोगों की मौत शराब से नहीं हुई ? खैर जहरीले शराब से मौत तो बिहार की भी हुई हैं आगे भी होंगी पर हम लोग गैर जरूरी नागरिक हैं, हिंदुस्तान में कहीं भी हादसा हो मातम बिहार में ही होता हैं तो जाने दो बिहारियों की मौत पे संसद में बात करना जरूरी नहीं आज तक किसी ने किया भी नहीं ।
बीजेपी जवाब नहीं देना चाहती हैं तो क्लेश हुआ और तुरंत suspension ।
अब आते हैं कांग्रेस पे गलती हुई माफी मांग लेते , सोनिया जी राष्ट्रपति या देश से तो बड़ी नहीं वो भी खड़े हो के मनमोहन सिंह की तरह अपने को विवादित बयान से दूर कर लेती !!!!
सोनिया जी हमारे मुद्दो से बड़ी कैसे हो गई ??? देश के लोकतंत्र को कमजोर कर दिया इस परिवार ने , अभी भी गुलाम ही हैं इनके सांसद, देश हित से कोई मतलब नहीं, पूरा सत्र इनके fraustration की भेट चढ गया, जनता C थी सो फिर से बन गई ,लोकतंत्र निरंकुश हो गया ।
स्मृति ईरानी जी ने तुरंत मौका हथिया ली और ऐसे ऐसे नाटक हुए की हमारी आवाज , इस देश की आवाज गुम हो गई ।
सोनिया गांधी / स्मृति ईरानी हिन्दुस्तानियों के भुख से बड़ी हो गई ?
संसदीय चर्चा गई तेल लेने , सांसदों का suspension बेकार हुआ, कांग्रेस सदन में रह के हमारे लिए नहीं अपनी रानी के लिए लड़ी।




Source

Leave a Reply

Your email address will not be published.