पॉलिथीन कैरी बैग का बेहतरीन विकल्प जैविक कैरी बैग…

पॉलिथीन कैरी बैग का बेहतरीन विकल्प जैविक कैरी बैग
Polythene से बने Carry Bag हमारे जीवन का अभिन्न हिस्सा बन चुके हैं, प्रत्येक व्यकि्त को इसकी आदत लग चुकी है।
भारत सरकार ने फरवरी 2022 तक Single Use Plastics का निर्माण पूरी तरह से बंद करने का फैसला किया। बिहार सरकार ने भी 22 अक्टूबर से यह प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। प्रकृति की रक्षा और लोगों के स्वास्थ्य के लिए इन पर प्रतिबंध लगना बहुत जरूरी था। Carry Bag का बाजार बेहद स्थापित है।
Biodegradable Polythene से न सिर्फ Carry bags बल्कि Agriculture Warp sheets, Dinning warp sheets, Seed packing bags, Food grades items packings, Garbage bags, Exports packings आदि भी बनाए जा सकते हैं। Biodegradable Polythene के निर्माण में मक्का, आलू और केले से बनने वाले polylactic acid (पीएलए) Granules का उपयोग कच्चे माल के रूप में किया जाता है। यह पारंपरिक पॉलिथीन की तरह ही मजबूत और भरोसेमंद हैं। Bioplastics का इस्तेमाल फिलहाल disposable items जैसे packaging, containers, straws, bags और bottles बनाने में किया जाता है।
Biodegradable Polythene (जैविक पॉलिथीन) प्लांट लगाने संबंधी इंजीनियरिंग, मशीनरी, बैंकिंग, इस उद्योग से संबंधित ट्रेनिंग की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए DSCRD Incubation Center और भारत सरकार के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय के एमएसएमई विकास संस्थान ने शुक्रवार, 4 सितंबर, 2020 को वेबिनार (ऑनलाइन सेमिनार) का आयोजन किया।
लॉकडाउन के दौरान जिस तरह से दूसरे प्रदेशों में रोजगार के लिए गए बिहार के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा और बड़े पैमाने पर उन्हें नौकरियों से हाथ धोना पड़ा, ऐसे में अब बेहद जरूरी हो गया है कि बिहार औद्योगिकीकरण की राह पर आगे बढ़े। पहले भी इसके लिए सरकार के स्तर पर प्रयास किए गए लेकिन बड़ी कंपनियों ने विभिन्न कारणों से यहां उद्योग स्थापित करने में ज्यादा दिलचस्पी नहीं दिखाई। बिहार को अगर आत्मनिर्भर बनना है तो बड़ी कंपनियों का इंतजार किए बिना छोटे-छोटे उद्योग धंधे लगा कर अपनी जरूरतों को पूरा करने में पूरी तरह से सक्षम है। इसके लिए बिहार के युवाओं में उद्यमी बनने की ललक जगानी पड़ेगी। Biodegradable Polythene (जैविक पॉलिथीन) प्लांट लगा कर उद्यमी बनने और आपदा को अवसर में बदलने का यह बेहतर मौका है।




Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *