Bihar floods



बड़हरिया की सुनिए भाग 2

जय हिंद साथियों,
नीतीश कुमार जी ने बोला था कि फरक्का के चलते गंगा मैं गाद जमती है, उस समय सुशील मोदी जी अपोजिशन में थे और उन्होंने कहा था की बांध बढ़ गया इसलिए बाढ़ बढ़ गया
बड़हरिया के लोगों ने और मैंने उससे काफी पहले यह बात बोल दी थी कि बिहार में बाढ़ सरकार की गलतियों की वजह से है , जिस बिहार में 6000 नदियां बहती थी वहां के हालात आज बाढ़ में देख लीजिए.
आज से 5 साल पहले मैंने एक आंदोलन किया था और कोर्ट में केस किया था, केस के फैसले के अनुसार इस समस्या का समाधान अभी तक हो जाना चाहिए था, मुझे अफसोस है की इतना कुछ करने के बावजूद भी स्थानीय जनप्रतिनिधि इस काम को कोर्ट के आदेश के बावजूद भी करवा ना पाए
गलती मेरी भी है, मुझे आज के राजनीतिक लोगों पर विश्वास नहीं करना चाहिए था, और समस्या भी थोड़ी हल्की हो गई थी कुछ टेंपरेरी समाधान जैसे लोग गेट बंद करना वगैरह से
कोर्ट का फैसला भी आप लोगों से शेयर करूंगा, जब यह सारी कहानी आपके सामने रख दूंगा तब.
मगर नतीजा यही है कि इस साल फिर पानी जम गया,
मेरा प्रयास यह है कि आप लोग सारी कहानी को देखिए तथा सरकार, सरकारी मुलाजिम, जनप्रतिनिधियों को समझिए
बीच-बीच में मैं अपना भी कमेंट वीडियोस में डालूंगा, उन वीडियोस में मैं अपनी समझ को आपके सामने रखने की कोशिश करूंगा, समस्या को समझना और ईमान के साथ समझना पहला कदम होता है
गडेरी नदी के तरवारा में बंद होने की कहानी है यह
सरकार और जनप्रतिनिधियों की उदासीनता एवं अज्ञानता की कहानी है
हजारों लोगों की बर्बादी की कहानी है यह
प्रक्रिया पिछले 15 दिनों से मैंने फिर से शुरू कर दी है और हर लेवल पर कोशिश कर रहा हूं
इस बार आर या पार कर लूंगा




Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *