Hope

Hope
Every institution with land should follow this
सोचिए क्या हम धरती पर बोझ हैं ?
क्या हम जितना CO2 बनाते हैं उससे ज्यादा oxygen produce करते हैं
क्या हम जितना पानी use करते हैं उससे ज्यादा harvest करते हैं
अगर नहीं तो हम धरती पर बोझ है





Source

2 thoughts on “Hope

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *