Infantry: The last 100 yard of nations foreign policy…

Infantry: The last 100 yard of nations foreign policy
#infantryday
दीपावली की शुभकामनाएं
1947 में आज के दिन ही हिंदुस्तान की फौज कश्मीर में दाखिल हुई थी, आज मुझे बेहद खुशी है कि मैं बिस्कोमान का एक हिस्सा हूं
बिस्कोमान का कश्मीर के सेब में व्यापार करना एक तरीके से कश्मीर के टेरर फंडिंग का अंत है उम्मीद करता हूं बहुत जल्द कश्मीर जन्नत होगा
Sanjeev Srivastwa





Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *